बहुतेरे इलाज बतावें ,जन जनमानस सब ,

केकर सुनैं, केकर नाहीं, कौन बताए इ सब ;

केयु कहिस कलौंजी पीसौ, केयु आँवला रस

केयु कहस घर म बैठो, हिलो न ठस से मस

ईर कहेन औ बीर कहेन, की ऐसा कुछ भी Carona ,

बिन साबुन से हाथ धोई के ,केहू के भैया छुओ न ;

हम कहा चलो हमौ कर देत हैं , जैसन बोलैं सब

आवय देयो , Carona-फिरोना , ठेंगुआ दिखाऊब तब – Amitabh Banchan

Leave a Reply

Site Footer

%d bloggers like this: